Soil health card yojna: आज के किसान के लिए जरुरी, कम लागत ज्यादा उत्पादन

soil health card yojna- यह योजना केंद्र सरकार ने 2019 में किसानो के लिए शुरू करी गई थी, जिसके अंतर्गत किसानो के खेत की मिट्टी की गुणवत्ता की जांच की जाएगी जिससे की किसान की फसल की पैदावार और मिट्टी की गुणवत्ता बनी रहे। कई बार किसानो को इस बात का ज्ञान ही नहीं होता की उनकी मिट्टी में किस पोषक तत्त्व की कमी है जिसका सीधा असर उनकी फसल की पैदावार में पड़ता है और हर बार वो वही गलती दोहराता है। सरकार ने ये सोच के ये योजना शुरू की है की किसान सही मात्रा में उर्वरक खेत में डाले और मिट्टी के हिसाब से सही फसल का चुनाव करे जिससे की अच्छी पैदावार मिल सके। आज हम योजना की जरुरी बातो और रेगिस्ट्रशन की पूरी प्रक्रिया के बारे में विस्तार से बताएगे जानने के लिए पूरा पढ़े-

Soil health card yojna के फायदे:

  • किसान साइल हेल्थ कार्ड 3 साल में एक बार ही किसान उपयोग कर सकता है।
  • किसानो को उनकी मिट्टी के अनुसार ही फसल लगाने के राय दी जाएगी।
  • देश के सभी किसानो के लिए ये योजना बनाए गई है, चाहे जमीन कम या ज्यादा सभी किसान इसका लाभ उठा सकते है।
  • इसमें 12 पैरामीटर (नाइट्रोजन, फॉस्फोरस, कार्बन, पोटाश, सल्फर, लोहा, जस्ता, मैग्नीज, बोरोन, फॉस्फेट, तांबा, pH और EC)।
  • ये निशुल्क सेवा है इसमें किसान को कोई भी भुक्तान करने की आवश्कता नहीं है।
  • इस योजना की मदद से किसान अपने खेत की मिट्टी की गुणवत्ता की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकता है, पोषक तत्वों के उचित मात्रा में प्रयोग और बेफालतू उर्वरको में हो रहे खर्च भी कम कर सकता है।

Soil health card yojna आवेदन की  प्रक्रिया:

  • सबसे पहले किसान जो इस योजना में रेजिस्ट्रशन करना चाहते है उन्हे ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा –https://soilhealth.dac.gov.in/
Soil health card yojna
  • जब साइट खुल जाएगी तो आपको login का एक विकल्प दिख रहा होगा उसे क्लिक करे, क्लिक करने के बाद आपको राज्य चुनने का विकल्प आएगा उसमे आपने राज्य का चयन कर ले और Continue बटन दबा दे।
Soil health card yojna
  • अब आपके सामने New registeration का ऑप्शन दिखेगा उस पर क्लिक करे आप आपके सामने रेजिस्ट्रशन फॉर्म खुल जाएगा।
soil health card yojna
  • रेजिस्ट्रशन फॉर्म में जो जानकरी चाहिए वो भी दे और submit बटन पर क्लिक कर दे।
Soil health card yojna
  • जब आपका रेजिस्ट्रशन हो जाए तो login पेज खोले और वहा अपना Username और Password डाले, आपका Soil health card yojna का आवेदन पूरा हो जाएगा।

soil health card ऑनलाइन कैसे निकाले:

  • किसान को ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा वहा होम पेज पर फार्मर कार्नर पर क्लिक करे
soil health card yojna
  • जो पेज खुलेगा उसके दाए साइड आपको Print Soil Health कार्ड का विकल्प दिखाई देगा उसे क्लिक करे।
Soil health card yojna
  • क्लिक करने के बाद आपको राज्य का चयन करना होगा, इसके बाद एक और पेज खुल के आएगा, जिसमे आपको जानकारी भरनी होगी जैसे –Farmer name, District and Village।
Soil health card yojna
  • जानकरी भरने के बाद Serach के बटन को दबाए और आप का soil health card खुल जाएगा आप इसका प्रिंट निकल सकते है।

soil health card कैसे कार्य करता है:

  • आपके खेत की मिट्टी का सेम्पल अधिकारी खेत से लेके जाएगा, फिर मिट्टी का परीक्षण के लिए उसे लेबोरेटरी भेजा जाता है।
  • मिट्टी की जांच के बाद उसमे मजूद और कमी पोषक तत्वों, मिट्टी के प्रकार, मिट्टी की नमी और बाकी परिस्थितियों के बारे में लिखा जाएगा।
  • यदि मिट्टी में कुछ कमी है तो उसके सुधार के लिए सुझाव देंगे और उसकी एक सूची बनायेंगे।
  • उसके बाद इस रिपोर्ट को एक-एक करके किसान के नाम के साथ ऑनलाइन अपलोड किया जाता है।
  • जिससे की किसान अपने मिटटी का रिपोर्ट जल्द से जल्द देख सके और उनके मोबाइल पर भी इसकी जानकारी दी जाती है।

अन्य किसान सरकारी योजनाओ के लिए यहां पढ़े: https://www.apkakhetiguru.com/category/government-schemes/

2 thoughts on “Soil health card yojna: आज के किसान के लिए जरुरी, कम लागत ज्यादा उत्पादन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *