प्रधानमंत्री मोदी ने कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर में किया 1 लाख करोड़ रुपए फंड का ऐलान- जाने किसानो को फंड से होने वाले फायदे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 अगस्त 2020 को एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 1 लाख करोड़ रूपए पैकेज का ऐलान किया जिसके अंतर्गत कृषि ढाचा परियोजनाओं को बढ़ावा दिया जाएगा।Agriculture infrastructure fund कोरोना महामारी से निपटने के लिये किये गए  20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज का ही हिस्सा है। इस फंड का उद्देश्य किसान को आत्म निर्भर बनाना और  गांवो में रोजगार को बढ़ावा देना है। कुछ किसानो को शायद इस बात का पता ना हो की इस फंड से उन्हे कैसे फायदा मिलेगा या किस प्रकार इसका इस्तेमाल किसानो के हित के लिये किया जाएगा। तो आइये जाने इस फंड से किसानो और खेती से जुड़े लोगो/ समितियों को होने वाले फायदे:

एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड (Agriculture Infrastructure Fund)

एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड के अंतर्गत किसानो को अपनी कटी हुई फसल के भंडारण और रख रखाव से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर की सुविधा दी जाएगी जैसे की कोल्ड स्टोरेज, वेयरहाउस, कलेक्शन सेंटर,ग्रेडिंग और पैकेजिंग यूनिट्स बनाना जिससे की फसल रखने में दिक्कत ना हो और ना खराब हो। इस फंड की अवधि 10 साल है और इसका इस्तेमाल खेती से जुड़े कार्यो में किया जायगा। इस फंड का लक्ष्य है फसल के भंडारण के लिये इंफ्रास्ट्रक्चर कम ब्याज पर और लम्बे समय तक ऋण की सुविधा प्रदान करना। इसमें अधिकतम 2 करोड़ के लोन पर सलाना 3% ब्याज पर छूट दी जाएगी जिसकी अवधि अधिकतम 7 वर्ष की होगी। इस फंड के अंतर्गत लाभ किसानो, FPO, बहुउद्देशिये सहकारी समितियाँ (Multipurpose Co-operative societies), कृषि उधमी, स्टार्ट अप (Startup) और राज्य/केंद्र ले सकते है।

किसानो को होने वाले फायदा

  • किसानो को तैयार फसल या कृषि उत्पाद रखने के लिये बेहतर भण्डारण व्यवस्था होगी।
Agriculture Infrastructure Fund for post harvesting activities
Agriculture Infrastructure Fund for post harvesting activities
  • फसल बर्बाद कम होगी जिससे किसान अपनी फसल उचित दाम पर बेच पाएगे।
  • किसान के समय की बचत होगी और नुक्सान कम होगा।
  • नए कार्य शुरू होंगे (वेयर हाउस, कोल्ड स्टोर और ग्रेडिंग और पैकेजिंग यूनिट्स आदि निर्माण) जिससे गावो में रोजगार बढ़ेगा।
  • जो अपना नया कृषि व्यवसाय (Agriculture Startup) शुरू करने जा रहे है उन्हे इस से काफी फायदा मिलेगा।

इस सूचना के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी बताया की पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत छठी क़िस्त भी 8.5 करोड़ किसानो के खाते में डाले गए है जिसके लिये 17000 करोड़ रूपए का फंड तैयार किया गया था। किसानो की आय दोगनी करने और आर्थिक रूप से उनकी स्थति को और बेहतर बनाने के लिये अन्य योजनायो के बारे में भी विचार किया जा रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *